Sunday, February 17, 2019

Essay in hindi on पुस्तकालय | Library पे हिंदी में निबंध (लेख ) Nibandh lekh

वह स्थान जहां विभिन्न प्रकार के पुस्तकों का संग्रह होता है उसे पुस्तकालय कहते हैं I जहां सभी लोग एक-साथ बैठकर अपने पसंदीदा और ज्ञानवर्धक किताबों का अध्ययन करते हैं या दूसरे शब्दों में पुस्तकों का घर को पुस्तकालय से संबोधन किया जाता हैI  पुस्तकालय से अपने आप में खास और विशेष लगाव प्रत्येक पाठकों के बीच  होता है क्योंकि यहां पर हर विचारधारा ,विषयों व लोगों के मनपसंद पुस्तकें हमेशा उपलब्ध रहती है जिससे मनुष्य का ज्ञान विस्तार होकर एक अच्छा चरित्र वाला इंसान बनने में प्रेरित करता है और जीवन के पथ पर हमेशा विकास के बयार की ओर निकलता हैI इसलिए पुस्तकालयों में हमेशा अच्छी-अच्छी कंटेंट और विषयों वाली पुस्तके होती हैं I अच्छी पुस्तकों  की संग्रह और सुचारु और सक्रियता से पुस्तकालय अपने आप में  शिक्षा का अलख जगाने का काम करती है चाहे वह नैतिकता से जुड़े हो या स्वास्थ्य या किसी अन्य विषय से जुड़े पुस्तकें ना सिर्फ पढ़ना बिल्कुल उसे अपने व्यवहार में हमेशा अमल  करने से हमारे पुस्तकालय जाने का आशय  पूरा होता हैI  पुस्तकालय हमारे जीवन के  साथ-साथ मन को ज्ञानी बनाता है जहां से हमारे विचारों का आदान-प्रदान व सूचनाओं से हमारे मन में  ढेर सारी खूबसूरत व उपयोगी विचार उत्पन्न होते हैंI  यहां से देश- दुनिया की नई और पुरानी बातें उनकी नीतियां उनके संस्कृति, वेशभूषा आदि सभी चीजों से रूबरू होने का सौभाग्य प्राप्त होता हैI