Friday, September 20, 2019

Essay in Hindi on नया साल | New Year

नया साल नई उम्मीदें, नए सपने, नए लक्ष्य और नए रास्ते पर चलने की उम्मीद है देता है| इसलिए सभी लोग खुशी से नए साल को त्यौहार के रूप में मनाते हैं, लोग यह मानते हैं कि साल का पहला दिन अगर उत्साह और खुशी के साथ मनाया जाए तो पूरा साल इसी तरह उत्साह और खुशियों के साथ ही बीतेगा |

वैसे तो पूरी दुनिया में नया साल अलग-अलग दिन मनाया जाता है, और भारत के अलग-अलग क्षेत्रों में भी नए साल की शुरुआत अलग-अलग समय होती है| लेकिन अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार 1 जनवरी से नए साल की शुरुआत मानी जाती है, क्योंकि अंग्रेजी कैलेंडर के हिसाब से 31 दिसंबर को 1 वर्ष का अंत होने के बाद 1 जनवरी से नए कैलेंडर वर्ष की शुरुआत होती है, इसलिए इस दिन को पूरी दुनिया में नया साल शुरू होने के उपलक्ष्य में पर्व की तरह मनाया जाता है|

हालांकि हिंदू पंचांग के अनुसार नया साल एक जनवरी से शुरू नहीं होता, हिंदू नववर्ष का आगाज गुड़ी पड़ाव से होता है , लेकिन 1 जनवरी को नया साल मनाना सभी धर्मों में एकता कायम करने में भी महत्वपूर्ण योगदान देता है |भारत के साथ-साथ विश्व के सभी देश नए साल के शुरुआत पर जश्न मनाते हैं, और अपने अभिभावकों के साथ मिलकर इस दिन का आनंद उठाते हैं, लोग इस दिन गाना गाते हैं, नाचते हैं, तरह तरह के खेल खेलते हैं, पार्टियों में जाते हैं, फिल्में देखते हैं, और पिकनिक भी मनाते हैं|
नववर्ष लोग भिन्न-भिन्न तरीकों से मनाते हैं, जैसे मे कुछ लोग एक दूसरे को ग्रीटिंग कार्ड देते हैं, कुछ लोग एक दूसरे को गिफ्ट देते हैं, कुछ लोग साथ मिलकर घूमने जाते हैं, इस दिन टेलीविजन पर मीडिया चैनल वाले भी लोगों के द्वारा आयोजित हर तरह के प्रोग्राम को टीवी पर दिखाते हैं, इस दिन हर व्यक्ति जीवन में एक नई और अच्छी शुरुआत करने के बारे में सोचता है।
बड़े-बड़े शहरों जैसे दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरू, चेन्नई इन सब शहरों में बड़े-बड़े लाइव कंसर्ट किए जाते हैं, जिनमें बॉलीवुड के कुछ सितारे और मशहूर लोग एकत्रित होते हैं, और कार्यक्रम में भाग लेते हैं।
हजारों की संख्या में लोग उनके इस समारोह को देखने के लिए आते हैं, कुछ लोग अपने परिवार मित्रों के साथ घर में मिलकर पार्टी मनाते हैं, तो कुछ लोग बाहर घूमने भी जाते हैं।यह सब समारोह इसलिए होते हैं ताकि हम बीते हुए साल को हंसते-हंसते विदा कर सकें, और हंसते-हंसते ढेर सारी खुशियां और नई आशाओं के साथ नए वर्ष की शुरुआत कर सकें।
नया साल एक नई शुरुआत को दर्शाता है, और हमेशा हमें आगे बढ़ने की सीख देता है।पुराने साल में हमने जो भी किया, सीखा, सफल या असफल भी हुए, उससे सीख ले कर एक नई उम्मीद के साथ आगे बढ़ना चाहिए।
 जिस प्रकार हम पुराने साल के समाप्त होने पर दुखी नहीं होते बल्कि एक नए साल का जश्न बड़े उत्साह और खुशी के साथ मनाते हैं, उसी तरह जीवन में भी बीते हुए समय को लेकर हमें दुखी नहीं होना चाहिए। जो बीत गया उसके बारे में सोचने की अपेक्षा आने वाले अवसरों का स्वागत करें। और उनके जरिए जीवन को बेहतर बनाने की कोशिश करें।

1 वर्ष में 365 दिन होते हैं, पर सभी वर्ष कैसे बीत जाते हैं यह हमें पता ही नहीं चल पाता।  यह वर्ष किसी के लिए बहुत ही अच्छा गुजरता है, तो किसी के लिए बहुत बुरा।  जिनके दिन बीते साल अच्छे गए हो वह लोग इस दिन यही कामना करते हैं कि उन्हें आने वाले साल में ऐसी खुशियां मिलती रहे हमेशा, और जिनके साथ बुरा या दुखदाई हुआ था वह भी वही कामना करते हैं।मैं इस नव वर्ष की शुरुआत में आप सभी को अपनी शुभकामनाएं देना चाहता हूं, और कहना चाहता हूं कि आप सभी को ढेर सारी खुशियां अच्छे स्वास्थ्य के साथ सफलता मिले और आप सब तरक्की करें।

No comments:

Post a Comment